The Power of Habit Book Summary in Hindi By Charles Duhigg

नमस्ते देवियों और सज्जनों, आप सभी का स्वागत हैं हमारे नॉलेज ग्रो हिंदी ब्लॉग में, दोस्तो आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही स्पेशल होने वाला है। क्युकी दोस्तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से आप जानेंगे कि हमारी आदतें क्या है और आप इन्हे कैसे बदल सकते है? और कैसे हमारी आदतें हमारा भविष्य बनाती और बिगाड़ती है? तो एसिलिए The Power of Habit Book Summary in Hindi आर्टिकल को आखिर तक जरूर पढ़िए।

The power of habit Book summary in Hindi

The Power of Habit Book Summary in Hindi By Charles Duhigg

दोस्तो Charles Duhigg द्वारा लिखी गई The Power of Habit Book जो बेस्ट सेलिंग बुक मैं से एक है। उसके बारे में आज हम इस आर्टिकल मैं बात करेंगे। दोस्तो आप अपना भविष्य नहीं बदल सकते लेकिन आप अपनी आदतें तो जरूर बदल सकते हैं और बदली हुई आदतें आपका भविष्य जरूर बदल देगी। दोस्तो ये कहना था Dr APJ Abdul Kalam जी का...

दोस्तो किस तरह हम अपनी आदतों को समझकर और उन्हे बदल कर जो चाहें वो पा सकते हैं। दोस्तो इस book के ऑथर ने इसके लिए 3 स्टेप्स बताए है।

🔹दोस्तो आदतें दो चीजों पर काम करती है... Rutine aur Reward यानी हमारी दिनचर्या और ईनाम

🔹 दोस्तो आप अपनी दिनचर्या बदल कर अपनी आदतों को बदल सकते हैं।

🔹 Willpower यानी कि आपकी इच्छाशक्ति सबसे पावरफुल हैबिट है। आप इसे 3 गुना बड़ा सकते हैं। 

🔹आदतें क्या हैं ? (What is Habbits in Hindi)

दोस्तो जो जो काम हम रोज करते है उन्हे करने की जिमेदारी हमारे माइंड पर आ जाती हैं और सारे जरूरी कामों को छोड़कर उन्हीं कामो को करने में मजा आता है। कुछ आदतें अच्छी भी हो सकती है और कुछ आदतें बुरी भी हो सकती हैं जिन्हे बदला जा सकता हैं। दोस्तो आपके साथ जो भी होता है वह आपके आदतों के कारण ही होता है।

दोस्तो ज्यादातर लोग अपने 24 घंटो मैं से 5 से 6 घंटे एसी चीजों मैं देते है की जो किसी काम की नही हैं और जिसमे समय ज्यादा वेस्ट होता है। इस किताब के ऑथर ने डिस्कवर किया की सभी आदतों की जड़ होती है उनमें आने वाला मजा और नशा या उस आदत से हमे मिलने वाला Satisfaction जिन्हें रिवॉर्ड कहा गया है। 

दोस्तो इसके बाद आती है हमारी Daily Routine यानी की जिस काम मैं हमे मजा आने लगता है या जो हमारे लिए जरूरी होता है, उसे हम रोज करने लगते हैं। कोई भी आदत का काम जो आप रोज या अक्सर करते हो, उस समय पर आपका ब्रेन उस चीज को लेकर सिर्फ दो बार Active होता हैं...

काम शुरू होने से पहले और काम खत्म होने के बाद, इसीलिए दोस्तो काम शुरू करते समय आपको उस चीज मैं मजा आता है और इसीलिए काम शुरू होने से पहले या काम खत्म होने के बाद हम उस काम को लेकर अफसोस करते रहते हैं की हमने यह क्यों किया? और उसके अगले ही दिन वही काम हम दोबारा करते हैं और फिर ये बहुत स्ट्रॉन्ग हो जाता है और हमारी आदत बन जाती हैं। जिससे बचना बहुत मुश्किल हो जाता हैं।

दोस्तो मैं आपको एक उदाहरण देकर समझाता हूं...

आप सुबह उठकर एक फुल कप चाय पीते हैं जो आपके लिए अच्छा नहीं है। लेकिन आपको इसमें मजा आने लगता है इसीलिए आप उस काम को एक दिन करते हो, दो दिन करते हो, तीसरे दिन भी करते हो और एसे रोज करने से यह आपकी आदत बन जाती है और ये आपके Daily Rutine मै शामिल हो जाती हैं। 

जरुर पढ़िए : - कामयाब लोगों की ७ आदतें जानिए हिंदी में...

दोस्तो आपको चाय की टेस्ट और स्मेल याद आती है और इसके बाद हो सकता है की आप दिन मैं दो या चार बार भी चाय पीने लग जाए। दोस्तो इस तरह एक इंसान किसी आदत के चपेट में आ जाता हैं, जिससे बाहर निकलना बहुत मुश्किल हो जाता हैं। लेकिन दोस्तो इससे बाहर निकला जा सकता है।

दोस्तो जो भी बुरी आदतें आपके अंदर हैं उन सभी से आपको होने वाले नुकसानो की लिस्ट बनाए और जब भी आप किसी बुरी आदत को करने जा रहे हो तब सबसे पहले आप उस आदत से आपको होने वाले सभी नुकसानों के बारे में सोचे और इसका आपके भविष्य पर क्या असर पड़ सकता है इसके बारे में भी जरूर सोचे। दोस्तो इसके अलावा अगर आप उस आदत को रोज कर रहे हो तो उस आदत को आप धीरे धीरे कोशिश करके उसे 3 से 4 दिन मैं करना शुरू करे क्युकी किसी भी आदत को तुरंत हटाया नहीं जा सकता है। 

दोस्तो लेकिन आदत को धीरे धीरे कम किया जा सकता है। फिर इन 3 से 4 दिन को बढ़ाकर 6 से 7 बढ़ाकर इस तरह आदत से छुटकारा पाया जा सकता है। दोस्तो इसके बाद ऑथर ने बताया है की अगर आप में किसी आदत को खत्म करने की will power यानी की इच्छा शक्ति हैं, तो आप उस आदत से जल्दी छुटकारा पा सकते हैं।

दोस्तो सिर्फ आदत मैं ही नहीं बल्कि जीवन में किसी भी लक्ष को achive करने के लिए आपके अंदर जितनी ज्यादा इच्छाशक्ति होंगी, आप उतनी आसानी से और जल्दी से आप उस लक्ष अचीव कर पाएंगे।

दोस्तो आपकी इच्छाशक्ति तभी स्ट्रॉन्ग होंगी जब आप किसी काम को लेकर सभी उद्देश्य आपके माइंड में होंगे। जैसे आपको वो काम क्यों करना है? उस काम से आपके लाइफ में क्या फर्क पड़ेगा? वो काम आपके लिए क्यों जरूरी हैं? तो इस तरह से आपकी इच्छाशक्ति का आपकी आदत को बदल ने में बहुत ही important रोल होता है।

जरुर पढें : - असफल लोगों की ७ बुरी आदतें जो उनको सफल नहीं बनाती हैं...

दोस्तो आप इस तरह से अपनी आदतों को बदल सकते हैं और एसी आदतें अपना सकते हैं जो आपकी बेहतर और स्वस्थ भविष्य की और ले जाए। तो दोस्तो ये थी The Power of Habit Book Summary in Hindi...

दोस्तो अगर आपको अपने हैबिट्स के बारे में डिटेल्स मैं जानना हैं तो आप इस बुक को खरीद पूरा पढ़िए या इस बुक की पीडीएफ फाइल डाउनलोड करके the Power of habit Book को पूरा पढ़िए...

The Power of habit Book in Hindi pdf free download

दोस्तो अगर आप The Power of habit Book in Hindi pdf free download करना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके the Power of habit Book की हिंदी पीडीएफ फाइल फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं।

Hindi PDF : - क्लिक कीजिए

Releted Articles : - 

1. जरुर पढें: - Miracle Morning Book summary in Hindi

2. जरुर पढें: - Richest man in Babylon Book summary in Hindi

3. जरुर पढें: - The Alchemist Book Summary in Hindi

4. जरुर पढें: - Rich dad poor dad Book Summary in Hindi

5. जरुर पढें: - Think & Grow Rich Book Summary in Hindi

Conclusion : - 

दोस्तो हमारे द्वारा किया हुआ प्रयास और The Power of Habit Book Summary in Hindi आर्टिकल अगर आपको पसंद आया हो या आपके लिए उपयोगी साबित हुआ हो तो अपने दोस्तो के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर जरूर शेयर कीजिए और नीचे comments box मै कॉमेंट्स करके हमे जरूर बताइए...

दोस्तो हमारे नॉलेज ग्रो हिंदी ब्लॉग के साथ जुड़े रहने के लिए हमारे ब्लॉग को E-mail Subscription से जरूर subscribe करिए और हमारे नॉलेज ग्रो टेलीग्राम चैनल को भी जरूर subscribe करे...

धन्यवाद...

दोस्तों आपकी मूल्यवान टिप्पणियां हमें उत्साह और सबल प्रदान करती है, आपके विचारों और मार्गदर्शन का सदैव स्वागत है !

टिप्पणी के सामान्य नियम : -

१. अपनी टिप्पणी में सभ्य भाषा का प्रयोग करें...

२. किसी कि भावनाओं को आहत करने वाली टिप्पणी न करें...

३. अपनी वास्तविक राय प्रकट करें...

टिप्पणी पोस्ट करें (0)
नया पेज पुराने