7 Signs Of Genius Person in Hindi | बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण

दोस्तो अगर आप बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण जानना चाहते हैं, तो आप 7 signs of genius person in Hindi आर्टिकल को जरूर पढ़िए।

नमस्ते, देविओ और देवताओं आप सभी का स्वागत है, हमारे नॉलेज ग्रो हिन्दी ब्लॉग में। आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही स्पेशल और शानदार होने वाला है। क्योंकि आज में आपके साथ 7 signs of genius person in Hindi में शेयर करने वाला हूं। इसीलिए दोस्तो आप बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण हिंदी आर्टिकल को आखिर तक जरूर पढ़िए।

7 signs of genius person in Hindi
Image Source: Google – 7 signs of genius person in Hindi

7 Signs Of Genius Person in Hindi | बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण

दोस्तो जीनियस और बुद्धिमान कोन नहीं बनना चाहता, हर कोई बुद्धिमान बनना चाहता है। हर किसी को लगता है कि में भी जीनियस और बुद्धिमान बनू और कोई ऐसा काम करू जो किसी ने आज तक नहीं किया हो और सब लोग मेरे इंटेलिजेंस कि तारीफ करे। इसीलिए आज मैंने सोचा कि में आपके साथ बुद्धिमान लोगों के 7 निशानियां शेयर करु।

जिससे आपको हेल्प मिल सके कि क्या आप एक आम इंसान है या एक जीनियस इंसान? दोस्तो आज हम आपको उन लक्षणों के बारे में बतायेंगे जो सिर्फ जिनीयस और बुद्धिमान लोगों में ही होती हैं। अगर आपको जानना है कि क्या आप एक आम इंसान है या एक जीनियस इंसान?

1. जीनियस लोग कभी भी हार नहीं मानते हैं।

दोस्तो जिनीयस लोगों का पहला लक्षण यह है कि जीनियस लोग कभी भी हार नहीं मानते हैं और आखिर तक प्रयास करते रहते हैं, जब तक उनको सफलता नहीं मिलती है। लेकिन यह निशानी बहुत से लोगों को कॉमन क्वालिटी लगती है और कहीं लोग यह भी कहेंगे की सिर्फ हार ही नहीं माननी ना इसमें क्या अलग है।

लेकिन दोस्तो में आपको बताना चाहूंगा की सक्सेसफुल लोग अपने लक्ष (goal) को हासिल करने के लिए किसी भी अध तक जा सकते हैं। दोस्तो इसका हम आपको एक एग्जाम्पल देकर समझाते हैं…

दोस्तो जब एलोन मस्क जी ने अपनी स्पेसएक्स कंपनी की शुरवात की हुई थी तब उनके पहले तीन रॉकेट बर्बाद हो गए थे। उसके बाद एलन मस्क जी से एक इंटरव्यू में पूछा गया था कि जब आपके 3 रॉकेट बर्बाद हो गए तब आपने क्या सोचा था कि अब मुझे हार माननी चाहिए?

दोस्तो तब इस पर एलोन मस्क जी ने कहा था कि नहीं, में कभी भी हार नहीं मानता या तो में मर जाऊंगा तब हार मानूंगा या मेरी इतनी बुरी हालत हो जाए कि जिससे में अपंग हो जाऊ और में कुछ भी ना कर पाऊं।

दोस्तो ऐसा ही कुछ सेम जवाब फेमस एक्टर विल्स स्मिथ जी ने भी दिया था। उन्होंने कहा था कि, हो सकता है तुम्हारे पास मुझसे से भी ज्यादा टैलेंट हो, स्मार्टनेस हो या इंटेलिजेंस हो लेकिन फिर भी में हार नहीं मानूंगा, अगर में और मेरा कॉम्पिटीटर एक साथ ट्रेडमिल पर चलते हैं, या तो वो पहले हार मानेगा या फिर में ट्रेडमिल पर तब तक भागता रहूंगा जब तक में मरना जाऊ।

दोस्तो इन दोनों सच्चे उदाहरण से आपको पता चल गया होगा कि जीनियस लोगों की पहली निशानी यह है कि वे कभी हार नहीं मानते हैं।

2. किसी एक काम के पीछे पड़ जाना।

जिनीयस लोगों की दूसरी निशानी यह है, कि वे किसी एक काम के पीछे पड़ जाते है। दोस्तो जीनियस लोग किसी एक चीज के पीछे पड़ जाए तो चाहते हुए भी उस चीज को छोड़ नहीं पाते है। और उसी टॉपिक के बारे में बार बार सोचते हैं, और बस वो ही एक टॉपिक उनके लिए सिग्नल है बाकी सब नॉइज है।

दोस्तो में आपको एक सच्चा उदाहरण देकर समझाता हूं।

दोस्तो अगर हम वॉरेन बफेट की बात करे तो वे इनवेस्मेंट को लेकर इतने ज्यादा फोकस हो गए थे कि उन्होंने हनीमून के टाइम में भी अपने साथ फाइनेंशियल स्टेटमेंट्स लेकर गए थे और जब एक बार उनकी पत्नी बीमार हो गई थी और बेड पर लेठी हुई थी तब उन्होंने वॉरेन बफेट जी से कहा कि क्या तुम मेरे लिए किचन से एक बाउल ला सकते हो, ताकि इसमें में गरम पानी डालकर पी सखु ?

तब वॉरेन बफेट जी किचन में गए और वहां किचन में वॉरेन बफेट जी एक के बाद एक बर्तन फेकने लगे, क्योंकि उनको किचन में बाउल नहीं मिल रहा था और फाईनली वो किचन से एक छेद वाला बाउल लेकर आ गए जिसमे हम फ्रूट्स को रखते हैं।

दोस्तो कई लोग इसे कैरलेस एटीट्यूड भी कहेंगे लेकिन दोस्तो यह जिनियस लोगों की निशानी है, क्योंकि वॉरेन बफेट जी बर्तन लाते समय भी उनके काम के बारे में सोच रहे थे यानी कि इन्वेस्टमेंट के बारे में सोच रहे थे क्युकी वो इन्वेस्टमेंट से बहुत आसक्त थे और इसी के वजह से उनका ध्यान बाउल दुंढने में नहीं लग रहा था।

दोस्तो यह थी जिनियस लोगों की 2 री निशानी है, जो सिर्फ जीनियस लोगों में देखने को मिलती है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो नीचे हमें कॉमेंट करके जरूर बताएं।

3. किताबे पढ़ना (लोकप्रिय)

दोस्तों जिनियस लोगों की 3 री निशानी रीडिंग है, क्योंकि आज के समय में हम सब एलोन मस्क, स्टीव जॉब्स, बिल गेट्स इन सभी के बारे में पढ़ते हैं। दोस्तो इन लोगों ने भी अपने टाइम में उन वक्त के सक्सेसफुल लोगों के बारे में बचपन में पढ़ा था उनकी बॉयोग्राफी पढ़ी थी, इसीलिए वो आज के समय में सक्सेसफुल है।

दोस्तो हमे किताबे पढ़ना चाहिए क्योंकि reader’s are leader’s और मोटिवेशनल स्पीकर सोनू शर्मा जी भी यही कहते है कि सफलता किताबो से ही गुजरती है और कहीं से नहीं। दोस्तो जितना हम ज्यादा पढ़ेंगे उतना ही ज्यादा हम अपने दिमाग को ज्यादा आइडियाज और नॉलेज से भर पाएंगे और तभी हम एक ग्रेट लाइफ को अचीव कर पाएंगे।

दोस्तो अगर आपको सक्सेसफुल आदमी बनना है, तो आपको एक अच्छा रीडर बनना पड़ेगा। दोस्तो मैंने इस ब्लॉग में बहुत ही अच्छी अच्छी किताबों कि समरी और उनकी पीडीएफ फाइल भी पब्लिश कि हुए है आप उन किताबों की समरी पढ़के आप उन किताबो कि पीडीएफ फाइल डाउनलोड कर सकते हैं या उन किताबो को खरीद भी सकते हैं।

दोस्तो अगर आपने अभी से ही किताबे पढ़ने का निर्णय लिया है, तो में आपको कुछ किताबे सजेस्ट करना चाहूंगा क्युकी एक अच्छा विचार से आपकी जिंदगी बदल सकती है।

दोस्तो अब आपको पता चल गया होगा कि रीडिंग हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है और इसी के वजह से रीडिंग जीनियस लोगों की 3 री सबसे अच्छी साइन भी है और अच्छी आदत भी है।

4. The Big Picture

दोस्तो जीनियस लोगों कि एक और क्वालिटी है कि वो अपने लाइफ को ज़ूम इन और ज़ूम आउट इन दोनो को करके सोच सकते हैं। और नॉर्मल इंसान सुबह उठता है, ब्रेक फास्ट करता है, बच्चो को स्कूल छोड़ता है और 9 से 5 की जॉब करता है और श्याम को घर आकर 6 से 7 बजे टीवी देखता है और रात को डिनर करके सो जाता है।

दोस्तो एक नॉर्मल इंसान इसी टाइम टेबल को सारे जिन्दगी भर रिपीट करता रहता है, यानी कि चूहे की दौड़ में फसा रहता है। वो अपने लाइफ को ज़ूम आउट करके यह नहीं सोच पाता कि उसे आखिर चाहिए क्या? क्या मुझे अपने लाइफ में बदलाव लाने के लिए और भी स्टेप्स को लेना चाहिए। लेकिन एक जिनीयस और सफल इंसान इसके ऑपोजिट सोचता है?

में आपको एक रीयल उदाहरण देकर समझाता हूं।

दोस्तो जब जैफ बेजॉस जी कि एमेजॉन कंपनी काफी सक्सेसफुल हो गई थी, तो उन्होंने देखा की में दिन का बहुत ज्यादा टाईम अपने कंपनी मे ही देता रेहता हूं और अपने बच्चों को ग्रो होते हुए नहीं देख पा रहा हुं। तब उन्होंने अपने बहुत सारे कामों को आउटसोर्स कर दिया और यह डिसाइड किया कि वो अपने फ़ैमिली को भी प्रॉपर टाइम देंगे।

5. अपनी नश्वरता के बारे में सोचना और उसी तरह से अपने लक्ष्यों को समायोजित करना।

दोस्तों जीनियस लोगों कि एक और क्वालिटी यह भी है कि वो अपने नश्वरता के बारे में सोचते हैं, यानी कि वो जानते हैं कि एक दिन उन्हें भी मर जाना है और उनकी लाइफ लिमिटेड है। इसीलिए वो अपने लाइफ के डिसीजन भी उसी तरीके से चेंज करते है।

में आपको एक उदाहरण से समझाता हूं।

एमेजॉन के फाउंडर जैफ बेजॉस जी ने जब खुद का बिजनेस का स्टार्ट करने का सोचा था तब वो एक जॉब करते थे। तब उन्हे पता नहीं चल रहा था कि वो जॉब छोड़े या नहीं, लेकिन फिर उन्होंने सोचा कि जब वे 80 साल के हों जाएंगे तब वो इस डिसीजन के बारे में क्या सोचेंगे? क्या वो दुखी होंगे की मैंने एक अच्छी और सिक्योर जॉब छोड दी।

दोस्तों तब उनको पता चला कि वो तब ज्यादा दुखी होंगे, जब अगर उन्होंने यह जॉब नहीं छोड़ी तो, क्योंकि वो पूरी लाइफ यही सोचते रहेंगे की में भी कुछ अच्छा और दुनिया बदल देने वाला काम कर सकता था, और काश मै यह डिसीजन ले पता था। इसीलिए दोस्तो जीनियस लोग अपनी जिंदगी के डिसीजन को लेने में टाइम नहीं लगाते हैं और रिस्क लेने से डरते नहीं हैं।

दोस्तो अगर आपको भी अपने लाइफ के डिसीजन लेने में दिक्कत आ रही है और आपको अपना गोल (लक्ष) समझ में नहीं आ रहा है, तो आपको नीचे दिए गए किताबो को जरूर पढ़ना चाहिए।

6. चीजों को तेजी से निष्पादित करें।

दोस्तों जिनीयस लोगों कि 6 लक्षण यह है चीजों को तेजी से निष्पादित करना यानी कि सिर्फ आईडियाज से कुछ भी नहीं होता बल्की उसके उपर ऐक्शन लेना भी बहुत जरूरी है। सबके पास बिलियन डॉलर आईडियाज हैं और सबको पता है कि कोनसी किताब को पढ़के आईपीएस बना जा सकता है या कौनसी किताब पढ़के वारेन बफेट जी इन्वेस्टर बने थे।

लेकिन दोस्तो हर कोई आईपीएस या वॉरेन बफेट जैसा इन्वेस्टर नहीं बनता, क्युकी कोई एक्शन ही नहीं लेता है। और पूरी जिंदगी भर अपने आइडियाज को अपने मन में रख कर लोग मर जाते है। दोस्तो इसीलिए सिर्फ सोचने से कुछ नहीं होगा उस पर एक्शन लेना भी बहुत जरूरी है, तभी ही आप सफल होंगे।

7. यदि आप वे ना कहना चाहते हैं तो वे हाँ नही कहते है।

दोस्तो जिनीयस लोगों कि 7 लक्षण यह है कि जीनियस लोग जानते हैं कि उनके पास लाइफ में लिमिटेड टाइम है, इसीलिए उसे सावधानी से स्पेंड करना होगा। इसीलिए जिनीयस लोग महत्तवपूर्ण कामों को पूरा करते हैं और बाकी सारी चीजों को NO बोलते रहते हैं और इसीलिए वे सक्सेसफुल बन पाते हैं।

दोस्तो इस पर एक किताब भी लिखी हुई है और उस किताब का नाम भी यही है Don’t say Yes if you want to say No और मैंने जिनीयस लोगों कि यह 7 वी निशानी भी इसी किताब में से ली हुई है। दोस्तो अगर आपको इस किताब कि हिन्दी मे समरी पढ़ने को चाहिए या इस किताब कि हिन्दी पीडीएफ फाइल डाउनलोड करना चाहते हैं? तो नीचे कमेंट बॉक्स में हमे जरूर बताए.

हमारे अन्य आर्टिकल्स

Conclusion of 7 Signs Of Genius Person in Hindi :

दोस्तो यह थे वो बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण जो मैंने कहीं सारे किताबो में से लेकर आपके साथ शेयर की हुई है। और साथ ही 7 signs of genius person in Hindi आर्टिकल को अपने सच्चे दोस्त के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप और टेलीग्राम जैसे शोशल मीडिया साइट्स पर अवश्य शेयर कीजिए।

दोस्तो क्या आप नॉलेज ग्रो ब्लॉग पर पहली बार आए हुए हैं? तो में आप सभी को बताना चाहूंगा की में नॉलेज ग्रो हिन्दी ब्लॉग पर आप सब के लिए हर रोज हिंदी में लेकर आता रहता हूं।👇👇👇

इसलिए आप सब हमारे नॉलेज ग्रो ब्लॉग को नीचे लेफ्ट साइड में दिए गए घंटी के आइकॉन पर क्लिक करके ब्लॉग को Subscribe जरूर किजिए। ताकि ऐसे ही Inspiring Article’s की notification सबसे पहले आपको मिल सकें।

धन्यवाद आपका दिन शुभ हो.

Rate this post
अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये.

2 thoughts on “7 Signs Of Genius Person in Hindi | बुद्धिमान लोगों के 7 लक्षण”

  1. मैं भी एक Blogger मुझे हिंदी आर्टिकल पड़ना और लिखना बहुत पसंद है, मैं आपके Article पूरा मन लगा कर पड़ता हूँ और आपके एक-एक शब्द से जो सीख मिलती है उसे नोट करके रखता हूँ सच में, आपके आर्टिकल हर पढ़ने वाले व्यक्ति के मन को छू जाने बाले उनके दिल में एक छाप छोड़ जाने वाले होते है, ऐसे आर्टिकल लिखने के लिए Knowledge और Time की जरुरत होती है आप अपना समय निकाल कर आर्टिकल लिखते है उसे लिए आपको दिल से….. बहुत बहुत धन्यवाद।।

    Reply

Leave a Comment