Top 7 Best Motivational Story in Hindi For Success 2022

Best Motivational Stories in Hindi For Success, Best Motivational Story in Hindi For Success, Motivational Kahani in Hindi :

नमस्कार दोस्तों आप सभी का knowledge Grow Motivational Blog पर स्वागत है। दोस्तो आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही Special & Motivational साबित होने वाला है, क्योंकि दोस्तो आज में आप के साथ Top 7 Best Motivational Stories In Hindi में शेयर करने वाला हू।

दोस्तो मैंने आपके लिए सबसे मूल्यवान प्रेरणादायक कहानियां हिंदी में ढूंढकर इकट्ठी किया हुआ है, ताकि आपको मोटीवेट कर सकू। ये सभी प्रेरणादायक हिंदी कहानियां आपकी रचनात्मक और आपकी अंदरूनी गुणों से एक बार फिर से मिलवाने में आपकी मदद करेगी।

Best Motivational Story In Hindi For Success | बेस्ट मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी

Top 7 Best Motivational Story in Hindi For Success | Hindi Motivational Stories

दोस्तो आप केवल मुझे आपके कुछ चंद मिनिट दीजिए, इन सभी प्रेरणादायक लघु कहानियों को पढ़ने के लिए, ताकि आप इनसे कोई सबक सीख सके और जीवन भर के लिए एक याद बना सकें।

दोस्तो ये कहानियां केवल लघु कहानियां नही है, बल्कि ये आपके जीवन में एक परम निशान बना सकती हैं। में आप सभी से यह उम्मीद करता हु की इन सभी प्रेरणादायक हिंदी कहानियों से आपको जरूर कुछ ना कुछ सीखने को मिलेगा।

दोस्तों ये सभी प्रेरणादायक कहानियां पाठकों को पढ़ने के लिए हिंदी और मराठी इन दोनो भाषाओं में उपलब्ध है, अगर किसी को इन सभी प्रेरणादायक कहानियों को मराठी में पढ़ना चाहते हैं, तो आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके मराठी में भी पढ़ सकते हैं।

दोस्तों इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़िए , क्यूँकी इस आर्टिकल से आपको बहुत कुछ सिखने को मिलने वाला है. तो बिना समय को गंवाए चलिए आपके साथ 7 Best Motivational Stories In Hindi में शेयर करते हैं।

Best Motivational Story in Hindi For Success – दो भाईयों की कहानी

दोस्तो ये कहानी है दो भाईयों की, उनमें से एक नशीली दवाओं का आदी था और अपने परिवार के लोगों को अकसर पीटा करता था , जबकि दूसरा काफ़ी सफल व्यापारी था। वह समाज में सम्मानित था और उसका एक अच्छा परिवार था।

एक ही माँ – बाप द्वारा पाले गए एक ही माहौल में पले – बढ़े दो भाई एक – दूसरे से इतने अलग कैसे हो गए। पहले भाई से पूछा गया कि आप यह सब क्यों करते हैं ?

आप नशीली दवाओं के आदी है, शराबी हैं , अपने परिवार के लोगों को पीटते हैं ? आपको यह सब करने की प्रेरणा कहाँ से मिलती है ?

उसने जवाब दिया, मेरे पिता से, वो नशीली दवाओं के आदी थे, शराबी थे और अपने परिवार के लोगों को हर दिन पीटा करते थे। तो फिर आप मुझसे क्या बनने की उम्मीद करते है? उन्हीं वजहों से मैं ऐसा इंसान बन गया हूँ।

जब दूसरे भाई से पूछा गया , आप सारे सही काम क्यों करते हैं ? तो आपकी प्रेरणा का स्रोत क्या है ? और जरा सोचिए , उसने क्या कहा, मैं जब छोटा था, तो अपने पिताजी को शराब के नशे में धुत और सारे ग़लत काम करते हुए देखा करता था।

मैंने उसी समय सोच लिया था कि मुझे उनके जैसा नहीं बनना है। दोनों भाई एक ही स्रोत से प्रेरणा हासिल कर रहे थे, लेकिन एक ने उसका इस्तेमाल सही ढंग से किया और दूसरा ग़लत ढंग से कर रहा था।

ग़लत ढंग की प्रेरणा इंसान को आसान रास्ता अपनाने की इच्छा पैदा करती है , लेकिन अंत में वह रास्ता ज्यादा मुश्किल साबित होता है।

Best Motivational Kahani in Hindi For Students – चार रानियों वाला राजा

एक बार एक रईस राजा था जिसकी चार रानियाँ थीं। वो अपनी चौथी रानी को सबसे ज्यादा प्यार करता था और उसे महंगे कपड़ों से लादे रहता और बेहतरीन खाना खिलाता था, उसे महूंगे कपड़ों से लादे रहता और बेहतरीन खाना खीलाता था। वो उसे केवल सबसे अच्छा देता था।

वो अपनी तीसरी पत्नी से भी बहुत प्यार करता था और उसका आस – पास के राज्यों में बखान करता था. मगर उसे डर था कि वो एक दिन उसे किसी और के लिए छोड़ देगी।

वो अपनी दूसरी पत्नी से भी प्यार करता था, और वो उसकी हमराज़ थी और उसके साथ हमेशा सहानुभूति , इज्ज़त और धैर्य से रहती थी, जब भी राजा को कोई परेशानी होती वह उसे बताता ताकि वह राजा को उस परेशानी का हल बता सके.

राजा की पहली पत्नी राजा की सबसे वफ़ादार थी और राज्य और उसकी दौलत बढ़ाने में बहुत मदद करती थी। मगर, वह अपनी पहली पत्नी से प्यार नहीं करता था

एक बार राजा बीमार पड़ गया और उसे समझ आ गया की उसके पास समय कम है, इसीलिए उसने अपनी चौथी पत्नी से पूछा की, मैंने सबसे ज्यादा प्यार तुमसे किया है. और तुम्हे सबसे बेहतरीन चीजो से नवाजा है, और तुम्हारा सबसे ज्यादा ध्यान रखा है.

अब जब में मरने जा रहा हु, क्या तुम मेरा साथ देने के लिए मेरे साथ चलोगी? तब उसके चौथी पत्नी ने जवाब दिया की बिलकुल नही.. उसकी बात राजा के दिल में छुरी जैसी चुभी…

अब दुखी राजाने अपने तीसरे पत्नी से पुछा की मैंने सारी जिंदगी तुमसे प्यार किया, अब में जा रहा हु, क्या तुम मेरे साथ चलोगी?

नहीं, ऐसा तीसरी पत्नी ने जवाब दिया. जिन्दगी बहुत अच्छी है और जब तुम मरोगे तो में दुबारा शादी करुँगी.

अब राजा ला दिल बैठ गया था और वह ठंडा पड़ गया था, फिर उसने अपनी दूसरी पत्नी से पूछा, मैंने हमेशा ज़रूरत के वक़्त तुमसे मदद माँगी और तुमने भी हमेशा मेरा साथ दिया. जब मैं मरूँगा क्या तुम मेरा साथ देने मेरे साथ आओगी ?

माफ़ करना, इस बार मैं तुम्हारी मदद नहीं कर सकती ! दूसरी पत्नी ने जवाब दिया, ज्यादा से ज्यादा मैं तुम्हे तुम्हारी कब्र तक छोड़ सकती हूँ। ” उसका जवाब बिजली की तरह राजा को लगा और वो बेहद दुखी हो गया।

तभी एक आवाज़ आई : मैं आपके साथ चलूंगी और जहाँ आप जायेंगे, वहाँ चलूंगी. राजा ने नज़र घुमाई तो उसकी पहली पत्नी खड़ी थी. वो बेहद कमज़ोर थी क्योंकि वो खाती नहीं थी.

दुःख से भरकर राजा ने कहा की जब मेरे पास मौका था तब मुझे तुम्हारा बेहतर ध्यान रखना चाहिए था. दोस्तों इस कहानी से हमें यह सिखने को मिलता है की

हमारी चौथी पत्नी हमारा शरीर है। हम चाहे इसे सजाने – धजाने में कितना भी दिल लगायें , मृत्यु के समय ये हमे छोड़ जायेगा.

हमारी तीसरी पत्नी हमारी संपत्ति दर्जा और दौलत है, जब हम मरते हैं, ये औरों को मिल जाती है.

हमारी दसूरी पत्नी हमारा परिवार और समिगण हैं, चाहे वो कितना ही हमारे साथ हों, ज़्यादा से ज़्यादा वो हमारे साथ शमशान तक आ जायेंगे, पर उससे आगे नहीूं.

हमारी पहली पत्नी हमारी आत्मा है, जो अक्सर दौलत, ताकत और अहूंकार के सलए बेध्यान हो जाती है.

मगर हमारी आत्मा ही एक ऐसी है जो जहा हम जायेंगे वहा तक जाएगी. इसीलिए इसे उपजाए, ताकतवर बनाए और इसका आज से ही ध्यान रखें! यही दुनिया में आपका सबसे बड़ा तौफा है.

Short Motivational Story in Hindi For Success

एक लड़का नदी में डूब रहा था वह मदद के लिए चिल्लाया। एक आदमी , जो उधर से गुज़र रहा था , नदी में कूद पड़ा और उसने लड़के को बचा लिया। जब वह आदमी जाने लगा तो बच्चे ने कहा , धन्यवाद।

उस आदमी ने पूछा किस लिए ? लड़के ने जवाब दिया , मेरी जिंदगी बचाने के लिए। उस आदमी ने लड़के की आँखों में देखा और कहा , बेटा, जब तुम बड़े हो जाओ, तो इस बात को साबित करना कि तुम्हारी जिंदगी बचाने लायक थी।

दोस्तो यह सोचने का समय है और यही सचेत होने का समय है। आत्म संतुष्टि के बिना सफलता व्यर्थ है। यदि जीवन का कोई अर्थ और उद्देश्य न हो , तो आप कितना भी सम्मान , पैसा और शिक्षा हासिल कर लें , आपको जिंदगी में खालीपन और उदासी ही महसूस होगी।

सेहत , पैसा , परिवार , समाज और जीवन मूल्यों के बारे में अपनी व्यक्तिगत सफलता की फ़िलॉसफ़ि बनाने से ही सफलता की शुरुआत होती है। अगर हमारी जिंदगी में सफलता की साफ़ फिलॉसफ़ी न हो , तो ख्यालीपुलाव ही हमारे मार्गदर्शक बन जाएँगे.

Hindi Motivational Story For Students – एक लालची किसान की कहानी

एक लालची किसान से कहा गया कि वह दिन में जितनी जमीन पर चलेगा वह उसकी हो जाएगी, बशर्ते वह सूरज डूबने तक की जगह पर वापस लौट आए। ज्यादा से ज्यादा जमीन पाने के लिए वह किसान दूसरे दिन सूरज निकलने से पहले ही निकल पड़ा।

वह काफ़ी तेजी से चल रहा था क्योंकि वह ज्यादा से ज्यादा जमीन हासिल करना चाहता था। थकने के बावजूद वह सारी दोपहर चलता रहा, क्योंकि वह जिंदगी में दौलत कमाने के लिए हासिल हुए उस मौके को गँवाना नहीं चाहता था।

दिन ढलते वक़्त उसे वह शर्त याद आई कि उसे सूरज डूबने से पहले शुरूआत की हुई जगह पर पहुँचना है। अपनी लालच की वजह से वह उस जगह से काफी दूर निकल आया था, और वह वापस लौट पड़ा।

सूरज डूबने का वक़्त ज्यों – ज्यों क़रीब आता जा रहा था , वह उतनी ही तेजी से दौड़ता जा रहा था। वह बुरी तरह थक कर हॉफने लगा , फिर भी वह बर्दाश्त से अधिक तेजी से दौड़ता रहा।

नतीजा यह हुआ कि सूरज डूबते – डूबते वह शुरूआत वाली जगह पर पहुँच तो गया, पर उसका दम निकल गया और वह मर गया। उसको दफना दिया गया और उसे दफ़न करने के लिए जमीन के बस एक छोटे से टुकड़े की ही जरूरत पड़ी।

Success Motivational Story in Hindi With Moral – एक लार्क चिड़िया की कहानी

एक बार एक लार्क चिड़िया जंगल में गाना गा रही थी। तभी एक किसान उसके पास से कीड़ों से भरा एक सदूक ले कर गुजरा। लार्क चिड़िया ने उसे रोक कर पूछा, तुम्हारे संदूक में क्या है और तुम कहाँ जा रहे हो?

किसान ने जवाब दिया कि उस संदूक में कीड़े है, वह बाजार से उन कीड़ों के बदले पंख खरीदने जा रहा है। लार्क ने कहा, पंख तो मेरे पास भी हैं। मैं अपना एक पंख तोड़ कर तुम्हें दे दूँगी, और उसके बदले में आप मुझे कीड़े दीजिए। इससे मुझे कीड़े नहीं तलाशने पड़ेंगे।

किसान ने लार्क चिड़ियां को कीड़े दिए और लार्क ने उसके बदले में उसे अपना एक पंख तोड़ कर दे दिया। उसके बाद रोज यही सिलसिला चलता रहा और एक ऐसा दिन भी आया , जब लार्क के पास देने के लिए कोई पंख ही नहीं बचा था।

अब वह उड़ कर कीड़े तलाशने लायक नहीं रह गई, और अब वो भद्दी दिखने लगी और उसने गाना छोड़ दिया और जल्दी ही वह मर गई। दोस्तो यही बात हमारी जिंदगी के लिए भी सच है।

कई बार हमें जो रास्ता आसान लगता है , वही बाद में मुश्किल साबित होता है। इस कहानी का संदेश बहुत ही साफ़ है। लार्क चिड़ियाँ को जो भोजन हासिल करने का आसान तरीका लगा था, वही मुश्किल और नुक़सान देह तरीका साबित हुआ।

Motivational Short Story in Hindi For Success – डॉक्टर की सर्विस

एक डॉक्टर जल्दी जल्दी अस्पताल में एक आवश्यक ओपरेशन के लिए आता है. उसने अपने कपडे कपडे बदले और तुरंत ऑपरेशन ब्लॉक में चला गया. उसने देखा की लडके के पिता हॉल में चक्कर लगा रहे है.

डॉक्टर को देखते ही लड़के के पिता भडक हो उठे और डॉक्टर से बोले की आपको आने में इतनी देर क्यू लगी? क्या आप जानते नहीं हो की मेरे बेटे की जान खतरे में है? आपको आप की जिमेदारी का एहसास है या नाही?

डॉक्टर ने मुस्कुराया और बोला की माफ किजिएगा, मे अस्पातल में नहीं था, मे जल्दी हो सका आ गया. अब मे चाहूंगा की आप शांत हो जाइये. ताकि मे अपना काम शुरू कर सकू। लडके के पिता कहते है की मी शांत हो जाउ?

अगर ये तुम्हारा खुद का बेटा होता तो क्या तुम शांत हो जाते. अगर तुम्हारा बेटा अभी मर जाए तो क्या करोगे? लडके के पिता ने चिलाकर पुच्छा. डॉक्टर फिर मुस्कुराये और बोले की में वही करूंगा जो बायबल में लिखा हुआ है ‘हम मिट्टी से आते है और मिट्टी को लौट जाते है.

आप जाइये और अपने बेटे के लिए प्रार्थना किजिए, भगवान की कृपा से हम अपनी तरफ से सबसे अच्छा करने की कोशिष करेंगे. उसके बाद लडके का पिता बडबडाया और बोले की बहुत आसान होता है सलाह देना, जब खुद का कोई लेना देना नहीं होता है.

कुछ घंटो के ऑपरेशन के बाद डॉक्टर खुश हुआ और ऑपरेशन थिएटर से बाहर निकला और बोले की शुक्र है आपका बेटा बचा गया! और बिना पिता के कुछ कहने का इंतजार किये डॉक्टर वहा से बाहर चले गए.

अगर आपके कुछ सावल पूछने है तो नर्स से पूछ लिजिएगा. नर्स को वहा आते देख पिता ने नर्स से पुछा की, ये इतना घमंडी क्यूँ है? की ये कुछ देर के लिए रुक नहीं सकता था क्यूंकी मे इनसे अपने बेटे का हाल जान सकू.

नर्स ने उनको बताया की कल इनके बेटे का एक रोड अपघात में निधन हो गया, और वो उसे दफनाने गए हुए थे. जब हमने उन्हे आपके बेटे के ऑपरेशन के लिए उन्हें बुलाया भेजा. तब वो आपके बेटे का ओपरेशन करने के लिए वहा से निकल आये.

दोस्तो इस कहानी से हमे यह सिखने को मिलता है की हर परिस्थीती में शांत रहे, ताकि आप अपने लिए बेहतर निर्णय ले सके, चाहे वो जिंदगी में हो या आप के व्यवसाय में हो.

Powerful Motivational Story in Hindi For Success

एक बार एक लड़का था जो गुणी , कलाकार , दिखने में अच्छा और बहुत बुद्धिमान था जैसे एक स्वाभाविक नेता. ऐसा कोई जिसे हर कोई अपनी टीम में चाहता था। मगर वह बहुत स्वार्थी और गुस्सैल भी था।

जब उसे गुस्सा आता , वह बहुत ख़राब चीजें बोलता और करता। इतना कि उसके आसपास कौन है इसका भी लिहाज़ नहीं रखता था, अपने दोस्तों का भी नहीं. इसलिए उसके बहुत कम दोस्त थे.

जैसे – जैसे वह बड़ा होने लगा उसके माता – पिता को उसके व्यवहार से चिंता होने लगी और वे सोच में पड़ गए कि क्या करें। आख़िरकार , उसके पिता को एक तरकीब सूझी और उन्होंने अपने बेटे से एक सौदा किया।

उन्होंने उसे कीलों का एक थैला और एक बड़ा सा हथोड़ा दिया. उन्होंने कहा की मैं चाहता हूँ कि जब भी तुम्हे गुस्सा आए तुम उसे बाहर निकालो और पीछे बाड़ के लकड़ी के फट्टे पर पूरी ताकत से एक कील गाड़ देना.

वो मोटी लकड़ी के फट्टे मौसम की मार झेल – झेल कर लोहे से सख्त हो चुके थे, और हथोड़ा भारी था, इसलिए ये काम इतना आसान नहीं था जितना लगता था। मगर फिर भी , एक दिन के अंत तक लड़के ने उसमे 37 कीलें गाड़ दीं थीं.

धीरे – धीरे , कुछ हफ्ते बीत जाने पर ये संख्या घट गई। उसे अपने गुस्से पर काबू आने लगा क्योंकि बाड़ में कील गाड़ना मुश्किल काम था ! फिर एक दिन आया जिस दिन लड़के ने एक बार भी गुस्सा नहीं किया।

उसने गर्व से जाकर अपने माता – पिता को ये बात बताई। पिता ने कहा तुम्हारी कामयाबी के लिए तुम एक कील निकाल सकते हो, ये तुम हर उस दिन कर सकते हो जिस दिन तुम गुस्सा नहीं करोगे।

1 कई हफ्ते बीत गए और आखिरकार एक दिन उस लड़के ने आकर गर्व से बताया कि अब फट्टे में एक भी कील बाकि नहीं है।

पिता ने उससे उनके साथ बाड़ देखने चलने को कहा और उन्होंने कहा की तुमने बहुत अच्छा काम किया है बेटे, मगर मैं चाहता हूँ तुम वो छेद देखो जो रह गए हैं। अब चाहे जो हो जाए , बाड़ कभी पहले जैसी नहीं होगी।

गुस्से में कही और करी बातें भी ऐसे ही निशान छोड़ जाती हैं और दाग हमेशा रह जाता है। अब तुम कितनी भी दफा माफ़ी मांगो, कितने भी साल बीत जाएँ , दाग रह ही जाते हैं। बातों की चोट भी हाथों की चोट जितना ही दर्द देती है.

लोग इस बाड़ से ज्यादा कीमती हैं और वो हमारी मुस्कान , हमारी कामयाबी का कारण बनते हैं। कुछ हमारे दोस्त बन कर हमारी खुशियों और दुःख में हमारे साथ होते हैं। इसका अर्थ है हमे सबको प्यार और इज्ज़त से रखना चाहिए।

इसीलिए हमे कम से कम दाग देने हैं. दोस्तों कितना ज़रूरी सबक है ना? और एक बात जो हम सबको बार बार याद रखनी चाहिए। सबको कभी न कभी गुस्सा आता है, तब असली इम्तेहान वह है कि हम उसका क्या करते हैं।

अगर हम समझदार हैं तो हम अपना समय पुल बनाने में लगायेंगे ना कि बाड़.

मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी पीडीएफ – Motivational Story in Hindi Pdf Free Download

दोस्तों अगर आप मोटिवेशनल स्टोरी इन हिंदी पीडीएफ फ्री डाउनलोड करना चाहते है, तो आप निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके Motivational Story in Hindi Pdf Free Download कर सकते है.

Motivational Story in Hindi Pdf Free Download

हमारे अन्य आर्टिकल्स

दोस्तो अगर आपको हमारे द्वारा लिखा हुआ यह Top 7 Best Motivational Story in Hindi आर्टिकल पसंद आया होंगा तो और आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होंगा तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तो के साथ शोशल मीडिया पर जरूर शेयर कीजिए।

दोस्तो आज के इस Top 7 Best Motivational Story in Hindi आर्टिकल में सिर्फ इतना ही, हम आप से फिर मिलेंगे ऐसे ही एक इंटरस्टिंग आर्टिकल के साथ तब तक के लिए आप जहां भी रही है खुश रहिए और खुशियाँ बाटते रहिये।

आपका बहुमूल्य समय हमें देने के लिए दिल से धन्यवाद…

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

5 thoughts on “Top 7 Best Motivational Story in Hindi For Success 2022”

  1. बहुत अच्छी जीवन बदलने वाली शिक्षाएं हैं इन कहानियों में और बहुत अच्छा काम कर रहे हैं आप कृपया इस भले काम को करते रहें may God bless you

    Reply

Leave a Comment