असल में जाने हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान क्या है? – Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan

Hastmaithun Ke Fayde, Hastmaithun Ke Nuksan, Hastmaithun Side Effects in Hindi, Masterbushing Benefits in Hindi

नमस्कार मेरे प्यारे भाइयों और बहनों, आप सभी का हमारे नॉलेज ग्रो सेल्फ हेल्प ब्लॉग पर स्वागत है। दोस्तों क्या आप हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान क्या क्या है? यह जानना चाहते है, तो आज का ये आर्टिकल सिर्फ आपके लिए ही लिखा हुआ है. इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़िए।

दोस्तों आज का ये आर्टिकल उन सभी नव युवकों को चेताने के लिए लिखा हुआ है, जो अपनी जवानी के जोश में हस्तमैथुन या मैथुन करके बार बार अपने बेश कीमती धातु अर्थात अपने वीर्य का नाश करते रहते है। और उसके साथ ही ये आर्टिकल उन सभी माँ बाप को चेताने के लिए लिखा हुआ है, जो अपने बच्चों की हरकतों पर अनजान और लापरवाह रहते है और समय पर उन्हें सही जानकारी नहीं देते है।

और दोस्तों हमने हमारे पिछलें आर्टिकल में भी इसके बारे में बात की थी की ” हस्तमैथुन या मैथुन के जरिये वीर्य की हो रही इस बर्बादी को रोकने के लिए हम सब ने अगर कुछ नहीं किया और समय रहते हमने इसकी मेहत्वता को नही जाना तो हमारी जिन्दगी हम पर ही एक बोझ बन जायेगी।

Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan - Hastmaithun Ke Nuksan
Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan – असल में जाने हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान क्या है?

असल में जाने हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान क्या है? – Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan

दोस्तों आज के ये आर्टिकल उन लोगो के रिक्वेस्ट और ओपिनियन से लिखा हुआ है , जिन्होंने अधिक हस्तमैथुन करके कई प्रकार की शाररिक और मानसिक समस्याओ का सामना किया हुआ है। सायकोलोजिस्ट Dr.Nichole, Dr. Syllvanus Stall और मेरे गुरु Radheshyam (ManthanHub Founder) जी का हम बहुत बहुत आभार प्रकट करते है , जिन्होंने इस पीडी का बहुत मार्गदर्शन किया हुआ है।

मेरे प्यारे दोस्तों, आप सभी को हस्तमैथुन करने से होने वाले हानिकारक दुष्परिणामों पर सचेत रहना चाहिए, हाला की कई सारी वेबसाइट, वीडियोस और मेडिकल एक्सपर्ट्स ने हस्तमैथुन के फायदे के बारे में सलाह दी है। लेकिन हम विश्वास करते है अनभव पर, हम विश्वास करते है परिक्षण पर, और हम विश्वास करते है वीर्य और मस्तिक्ष की केमिस्ट्री पर, उसके साथ ही हम अधूरे और तर्कहीन बातों पर विश्वास नहीं करते है, और इसलिए उचित यही है की आप अपने खुद के ही अनुभव से सबक लें।

दोस्तों आप हम पर विश्वास कीजिये अगर आपने इस आर्टिकल को ध्यान से अंत तक पढ़ लिया, तो आज आपका जीवन बदलना तय है, और इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक जरुर पढ़िए. तो बिना समय को गवाएं चलिए आर्टिकल की शुरुआत करते है।

हस्तमैथुन करने से होनेवाले नुकसान – Hastmaithun Side Effects in Hindi

1. दोस्तों जिसको हस्तमैथुन करने की लत लग जाती है , वो व्यक्ति कभी ये सोच ही नहीं पाता की सम्भोग से बढ़कर भी कुछ और होता है. और व्यक्ति अपने को सचेतन करने की वो कभी कोशिश ही नहीं करता।

2. हस्तमैथुन करने से मिलने वाला सुख कुछ ही क्षण के लिए टिकता है, लेकिन मन की खिन्न्नता और उत्साह की कमी कई दिनों तक बनी रहती है।

3. हस्तमैथुन करने के बाद व्यक्ति एक प्रकार के शारीरिक और मानसिक थकान को महसूस करता है, क्यूंकि इस काम में शरीर की बहुत शक्ति खर्च हो जाती है।

4. अधिक वीर्य खर्च होने से शरीर में अधिक कैल्शियम की कमी हो जाती है, जिसके कारन कमर में अधिक दर्द होने लगता है।

5. हस्तमैथुन करने से धीरे धीरे याद शक्ति में कमी होने लगती है, क्यूँकी वीर्य में ऐसे केमिकल्स (जैसे की लेसिथिन, फोस्फोरस) होते है, जो हमारे दिमाग के लिए अच्छा भोजन होता है।

हस्तमैथुन के नुकसान – Masterbushing Side Effects in Hindi

6. हस्तमैथुन की आदत से आपको रोजमर्रा के कामों में डिस्टरर्बेंस होता है, क्यूँकी अधिक सेक्सु-अल उत्तेजन्ना से आपको हस्तमैथुन करने का मन करता है।

7. समय, नींद और शक्ति का अधिक खर्च हो जाता है , क्यूँकी कभी कभी यौन उत्तेजन्ना न होने के कारण लोग रात को घंटों तक पोर्न वीडियोस देखकर समय ख़राब करते रहते है. इस्ससे आपकी नींद और आपकी शक्ति भी बहुत खर्च हो जाती है।

8. अधिक यौन भावनाओ से ग्रस्त होकर आप अपने मन को कण्ट्रोल नहीं कर पातें है, उसके कारन आप कसी भी काम पर फोकस नहीं कर पातें है। आपने कई बार हस्तमैथुन किया हुआ है, लेकीन फिर भी आप अपने आपको संतुष्ट नहीं कर पाए है, इससे होता ये है की आपका मानसिक संतुलन बिगड़ जाता है और एकाग्रता नष्ट हो जाती है।

9. सोते समय यौन उत्तेजन्ना करने वालें सपने आते है, और उसके कारन स्वप्नदोष हो जाता है।

10. अधिक हस्तमैथुन करने के कारन सर के बाल झड़ने लगते है।

हस्तमैथुन करने के नुकसान – Hastmaithun Karne ke Nuksan in Hindi

11. अधिक हस्तमैथुन करने की आदत बाद में एक नशे में बदल जाती है, जैसे की शराब और तम्बाकू आदत होती है ठीक वैसे ही।

12. अधिक हस्तमैथुन शीघ्रपतन और स्वप्नदोष जैसी बिमारियों को जन्म देता है। और अधिक हस्तमैथुन और शीघ्रपतन आपके वैवाहिक जीवन में समस्या पैदा कर सकते है।

13. हमारे शरीर सबसे महत्वपूर्ण द्रव्य अर्थात वीर्य अधिक खर्च होने से, वक्त से पहले ही यानि जल्द ही बुढ़ापा आने लगता है।

14. अधिक हस्तमैथुन करने के कारन आप अपने यौन सवेदंशिलता को खो सकते है।

15. अधिक हस्तमैथुन के कारन आपके शरीर में शुक्राणुओं की कमी होती है, और उसके कारन आपको नपुंसकता और यूरेन इन्फेक्शन की बीमारी हो सकती है।

हस्तमैथुन करने के खतरनाक परिणाम – Hastmaithun Harmful Effects in Hindi

16. अधिक हस्तमैथुन करने के कारन व्यक्ति का मन असंतुलन हो जाता है और डिप्रेशन लेवल बढ़ जाती है, जिसके कारन आत्महत्या करने की भावना पैदा होती है।

17. असुरक्षित और अकेलापण का अनुभव होना, और ये मन की सबसे खतरनाक अवस्था है. आपको ऐसा महसूस हो सकता है की जीवन की वास्तविक ख़ुशी की और मार्गदर्शन करने वाला इस दुनिया में कोई भी नहीं है। और आप पाएंगे की हर कोई सम्भोग और हस्तमैथुन करने के लिए सलाह करते है , लेकिन वास्तविक संतुष्टि और सुख का मार्ग दिखाने वाला इस दुनिया में कोई भी व्यक्ति नहीं है.

18. बार बार हस्तमैथुन या मैथुन करके अपने वीर्य का नाश करने वालें लोगो का सारा आत्मविश्वास वीर्य के साथ बहकर बर्बाद हो जाता है और इन्सान खुद ये अंदाजा नहीं लगा पाता।

19. इन्सान पहले की तरह शाररिक और मानसिक परिश्रम नहीं कर पाता और वो व्यक्ति थककर पसीना पसीना हो जाता है और काप जाता है और बैठ जाता है।

20. वीर्य के अन्दर के सारे जरुरी तत्व ख़तम हो जाते है और इन्सान का वीर्य पानी जैसा पतला हो जाता है।

Hastmaithun Ke Labh Hani in Hindi – Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan

21. हस्तमैथुन की लत से पहले हर व्यक्ति ने ये महसूस किया था की उसका दिमाग बहुत तेज था और शरीर में बिजली की तरह कुछ शक्ति दौड़ रही थी, लेकिन काम वासना और विर्य नाश के वजह से वो बिजली की जैसी शक्ति कही गायब हो गई और शरीर डिसचार्ज बैटरी की तरह यूज़लेस हो गया है।

22. अधिक वीर्य नाश से एक मानसिक बीमारी हो जाती है और उसे कहते है “में क्या करू?” यानि की व्यक्ति दिमाग से इतना डिस्टर्ब रहता है की उसे समाधान में भी समस्या नजर आती है और वो व्यक्ति हर समय कहता रहता है की “में क्या करू, में क्या करू?

23. आँखों की रौशनी, चेहरे की चमक और बातों की मिठास और व्यक्तित्व का विकास सब कुछ तबाह हो जाते है।

24. अधिक विर्य नाश से शरीर जकड जाता है, सुकड जाता है और स्वस्थ्य उखड जाता है।

25. हस्तमैथुन और अत्यधिक मैथुन से वीर्य ग्रंथि इतनी कमजोर हो जाती है की वीर्य सुरक्षित नहीं रह पाता है. यानि की विपरीत लिंग से बात करने या देखने या छूने मात्र से ही वीर्य शरीर से बाहर निकल आ जाता है।

Hastmaithun Ke Nuksan – Masturbation Side Effects in Hindi

27. Erectile Dysfunction ये खतरनाक बिमारी है , जिससे लाखो लोग जूझ रहे है. जिसके कारन लिंग का तनना ख़तम हो जाता है और उसके वजह से इन्सान वैवाहिक जीवन को सुख से नहीं जी पाता है। संतान की प्राप्ति नहीं कर पाता है और इससे आगे जब वो व्यक्ति जाता है, तब वो नपुंसक हो जाता है।

28. पेशाब से पहले और बाद में वीर्य निकल जाता है और पेशाब में ज्यादा झांक दिखाई देता है. पेशाब के बाद मुह कडवा हो जाता है।

29. ठीक से नींद नहीं आना और सर हमेशा भारी भारी रहना और खाना ठीक से हजम नहीं होना और कब्जियत की लम्बी शिकायत होना।

30. हड्डियों में दर्द , कमर में दर्द , बदन में दर्द होंने लगता है. कमजोर दिल, कमजोर शरीर , कमजोर मन और उदासीपण आ जाती है।

Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan in Hindi

31. बाल जल्दी सफ़ेद हो जाना और सर में बिच बिच में चक्कर आना और निराशा हावी होना।

32. दोस्तों ये हस्तमैथुन का सबसे भयानक साइड इफ़ेक्ट है और इसे ध्यान से पढ़े : अधिक वीर्य खर्च होने के वजह से जीभ में एक सफ़ेद लेयर जम जाता है और उसके वजह से मुह से हमेशा दुर्गन्ध आना चालू हो जाता है. चाहे आप कितनी ही बार अपना मुह साफ़ क्यूँ न करलें , लेकिन फिर भी मुह से दुर्गंधी आती ही रहती है।

दोस्तों आपको हम जागरूक करने के लिए समझाना चाहते है की ऐसा आखिर क्यों होता है? (ध्यान से पढ़े)

दोस्तों खास करके अत्यधिक हस्तमैथुन और वीर्य नाश से शरीर के जरुरी केमिकल्स जो शरीर की व्यवस्था को चलातें है, वो वीर्य नाश के कारन बर्बाद होते है।

जिस तरह लाश में जीवन नहीं होने से दुर्गन्ध आती है , ठीक उसी तरह शरीर में जरुरी तत्व वीर्य के द्वारा बर्बाद होने के कारन शरीर अन्दर से मुर्दे जैसा हो जाता है, जिसका असर पुरे शरीर में देखने को मिलता है. इसके कारन खून में जो सफ़ेद कीटाणु होते है जो रोगों से लड़ते है, उनकी कमी हो जाती है।

कुल मिलाकर शरीर में बायोलोजिकली ऐसा नकारात्मक परिवर्तन होता है की, वो शरीर को अन्दर बाहर से खोखला कर देता है . फिर श्वास के माध्यम से हमारे शरीर में जो Bacteria जाते है, उसे हमारे शरीर के अन्दर के खून के सफ़ेद कीटाणु मार डालते है।

लेकिन जब शरीर के अन्दर के सफ़ेद कीटाणु ही जब कम हो जातें है , तब हानिकारक Bacteria की संख्या बढ़ जाती है , जो हमारे शरीर की आंतरिक व्यवस्था को खराब करते है और फिर वो हमारे शरीर में बीमारियाँ पैदा करते है।

और यही कारन है की हमारे मुह से दुर्गन्ध आने लगती है और जब ये समस्या क्रिटिकल हो जाती है, तब मुह के साथ साथ पुरे शरीर से दुर्गन्ध आने लगती है. इसलिए कहा गया है की ,

मरणंम बिंदु पातेन जीवनम बिंदु धारनात : यानि की वीर्य नाश मृत्यु है और वीर्य रक्षा जीवन है…

दोस्तों हमेशा ये याद रखे की अनुभव ही सच्चा ज्ञान होता है और इसलिए हमेशा अपने अनुभव का आदर करें और कभी भी भ्रमित नहीं हो। दोस्तों आप लोगो में से अधिक लोग जो इस आर्टिकल को पढ़ रहे है और उस प्रकार की समस्याओ से जूझ रहे होंगे , जिसकी ऊपर हमने बात की. अगर आप अपने अनुभव का आदर नहीं करते है , तो ये हस्थमैथुन का सबसे हानिकारक प्रभाव है।

दोस्तों अगर आप इन सभी समस्याओ से बचकर सुखी और वास्तविक जीवन जीना चाहते है? तो आप बीती हुई बातों को भूलकर एक नए जीवन की शुरुआत करे। इसलिए आज ही और अभी से ही एक दृढ़ सकल्प करे और इस दलदल से बचने के लिए पुरुशार्त करे।

यानि की जब तक आप पुरुशार्त नहीं करेंगे तब तक आपकी समस्या ख़त्म नहीं हो सकती है, इसलिए पुरुशार्त करे. क्या करें और कैसे करना है? ये हम आपको बताएँगे.

दोस्तो जो लोग अश्लील वीडियो देखते है और हस्थमैथुन करते हैं और अपने बेश कीमती वीर्य को पानी की तरह बहाते है, उन्हे अपने आपको देखना चाहिए और उन्हें अपने आपसे यह सवाल पूछना चाहिए की आखिर ऐसा करने से क्या होंगा भला। आप उसके अंत में जाइए और देखिए सोचिए की आप जो यह कर रहे हैं इससे आपको क्या लाभ मिलने वाला है।

जब आप यह देखने लग जायेंगे तो आप संकल्प लेकर संकल्प शक्ति के साथ किसी भी व्यसन से बाहर आ सकते हैं। क्योंकि महर्षि बागभट जी ने कहा है की “अगर किसी भी व्यसन से बाहर निकलना है, तो आप संकल्प शक्ति के द्वारा बाहर निकल सकते हैं।”

दोस्तो हम आपसे विनती करते हैं की यह गंदा और मनहूस काम करना छोड़ दे, जो आपको बरबाद कर देगा। अगर आप इसे छोड़ने में असमर्थ हैं? तो कोई बात नहीं, दोस्तो हम इस व्यसन को छुड़ाने में आपकी पूरी मदद करेंगे।

Hastmaithun Ko Kaise Roke Gharelu Upay – Hastmaithun ke Nuksan Ka Ilaj

दोस्तो इस दुनिया में ऐसी कोई भी चीज नहीं जिसका कोई सोल्यूशन्स नहीं है। अब में आपके साथ कुछ ऐसी जानकारी शेयर करने वाला हु, जिसे जानने के बाद आपका जीवन पुरी तरह से बदल जाएगा।

दोस्तो अब में आपके साथ तीन रामबाण उपाय शेयर करूंगा, जो आपके जीवन को बदल देंगी। आपको सिर्फ इन तीन चीज़ों को फॉलो करना है और कुछ नही करना है। क्या है वो जानकारी जो आपके जीवन को बदल सकती है? उसे जानने के लिए आर्टिकल के अंत तक बने रहिए।

1. दोस्तों सबसे पहले आपको पॉर्न देखना और हस्थमैथुन करना बिलकुल ही बंद कर देना है। उसके साथ ही आपको ब्रह्मचर्य का पालन करना भी शुरू करना है। अगर आप ब्रह्मचर्य क्या है और उसके फायदे और उसका पालन कैसे करें? यह जानना चाहते है? तो आप नीचे दिए गए आर्टिकल को एक बार जरूर पढ़िए।

2. दोस्तो उसके बाद अगला कदम जो आपको उठाना है और वो यह है की आपको युवाओं की जिंदगी बदल देने वाली दिव्य प्रेरणा प्रकाश किताब को पढ़ना है। इस किताब में बताया गया है की किस तरह जीवन को जीने से जीवन का ओज बना रहता है।

दोस्तो अगर आप दिव्य प्रेरणा प्रकाश किताब की हिन्दी पीडीएफ फ्री डाऊनलोड करना चाहते हैं? तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप दिव्य प्रेरणा प्रकाश को फ्री में डाउनलोड कर सकते है।

3. दोस्तो उसके बाद तीसरा और आखरी कदम है, जो आपको उठाना है और वो है की लाखो युवाओं को पॉर्न और हस्थमैथुन के दलदल से बचाने वाले Manthanhub यूट्यूब चैनल को फॉलो करना है।

क्योंकि दोस्तो इस चैनल ने मेरी और मेरे जैसे और लाखों युवाओं की जिंदगी बदल दी है। दोस्तो अगर आपने manthanhub की विडियोज देखली, तो आपको आपके जीवन में परिवर्तन लाने से कोई भी नहीं रोक सकता है।

दोस्तो यह मेरा और Manthanhub से जुड़े हुए 1 मिलियन युवाओं का प्रेक्टिकल अनुभव है। दोस्तो नीचे मैने manthanhub से जुड़े हुए दो युवा लडको का प्रैक्टिकल अनुभव वीडियो और आर्टिकल के माध्यम से शेयर किया हुआ है, उसे जरूर देखें और पढ़े।

अंत में:

दोस्तों अंत में हम उन सभी लोगो का धन्यवाद करते है , जिन्होंने अपना अनमोल अनुभव शेयर किया और उसके साथ ही हमारे गुरुजी राधेश्याम जी (Manthanhub Founder) का भी धन्यवाद करते है, जिनकी वजह से हम ये आर्टिकल आपके लिए लिख सके।

मेरे प्यारे दोस्तों, हम आपसे आग्रह करते है की आप भी अपना अनमोल अनुभव निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके हमारे साथ जरुर share कीजिये , ताकि सब के लिए लाभदायक हो सकें।

दोस्तों आज के इस “Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan” आर्टिकल में सिर्फ इतना ही , दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आपक लिए उपयोगी साबित हुआ होंगा? तो इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और whatsapp पर अवश्य share कीजिये.

दोस्तों हम आपसे फिर मिलेंगे ऐसे ही एक और जीवन को बदल देने वाले आर्टिकल के साथ , तब तक के लिए आप जहा भी रहिये खुश रहिये और खुशिया बाटते रहिये।

आपका बहुमूल्य समय हमें देने के लिए दिल से धन्यवाद …

इससे सबंधित पूछे जाने वालें कुछ सवाल (FAQS):

मास्टरबेशन करने से कौन सी बीमारी होती है?

अधिक मास्टरबेशन करने से शीघ्रपतन और स्वप्नदोष जैसी बिमारिया होनी लगती है और अधिक हस्तमैथुन और शीघ्रपतन आपके वैवाहिक जीवन में समस्या पैदा कर सकते है।

1 महीने में कितनी बार मास्टरबेट करना चाहिए?

अगर आपकी भलाई के लिए कहूँ तो आपको 1 महीने में तो क्या, आपको जिन्दगी में कभी भी मास्टरबेट नहीं करना चाहिए। जानने के लिए इस आर्टिकल को जरुर पढ़िए।

क्या मुठ मारने से बॉडी नहीं बनती?

हाँ , मुठ मारने से बॉडी नहीं बनती, क्यूँकी अधिक मुठ मारने से शरीर जकड जाता है, सुकड जाता है और स्वस्थ्य उखड जाता है।

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

Leave a Comment